खेल जगत

सुनील गावस्कर के बाद वीरेंद्र सहवाग भारत के सबसे सफल सलामी बल्लेबाज-गौतम गंभीर

अगर आप 83 रन बनाकर मैन आफ द मैच बन सकते हैं तो इससे दिखता है कि आप कितने प्रभावी खिलाड़ी हैं।

चौथा अक्षर संवाददाता
नई दिल्ली
दिल्ली से भाजपा सांसद और भारत के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने कहा है कि सुनील गावस्कर के बाद विस्फोटक बैट्समैन वीरेंद्र सहवाग भारत के सबसे सफल सलामी बल्लेबाज हैं। नजफगढ़ के नवाब सहवाग ने अपना इंटरनेशनल करियर एक मध्यक्रम के बल्लेबाज के रूप में शुरू किया था बाद में वो ओपनिंग करने लग गए। इसके बाद दिल्ली के इस खिलाड़ी ने पीछे मुड़कर नहीं देखा। गंभीर ने यह भी कहा कि सहवाग देखने में नैचुरल ओपनर नहीं लगते हैं। यहां तक कि वो हमेशा अपने पार्टनर से स्ट्राइक लेने के लिए कहते हैं।

गौरतलब है कि मुल्तान के सुल्तान सहवाग भारत की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में दो तिहरे शतक जड़ने वाले अकेले भारतीय हैं। उन्होंने यह कारनामा पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका जैसी मजबूत टीमों के खिलाफ किया है। स्टार स्पोर्ट्स के शो श्क्रिकेट कनेक्टेडश् पर गंभीर ने कहा कि कोई भी टेस्ट में सहवाग के प्रभाव की बराबरी नहीं कर सकता। किसी ने भी नहीं सोचा था कि वो इतना प्रभावी टेस्ट सलामी बल्लेबाज बन जाएगा। लोगों को हमेशा लगता था कि वो सीमित ओवर फार्मेट में कहीं ज्यादा सफल होगा। अगर आप उसके रिकॉर्ड को देखें तो वो टेस्ट क्रिकेट में कहीं ज्यादा सफल है। और यही वीरेंद्र सहवाग हैं।
उन्होंने कहा कि मुझे एक पारी याद है जो उसने चेन्नई में खेली गई थी जब हमने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच जीता था। हम एक टर्नर पिच पर लगभग 350 (387) रनों का पीछा कर रहे थे, जहां विपक्षी टीम में ग्रीम स्वान और मोंटी पनेसर थे और वीरेंद्र सहवाग ने 83 रन बनाए थे। अगर आप 83 रन बनाकर मैन आफ द मैच बन सकते हैं तो इससे दिखता है कि आप कितने प्रभावी खिलाड़ी हैं। वीरेंद्र सहवाग ने देश के लिए 16 हजार से ज्यादा रन बनाए हैं। सहवाग ने साल 2015 में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा था। इंडियन प्रीमियर लीग में वो दिल्ली डेयरडेविल्स अब (दिल्ली कैपिटल्स) और किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेल चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Close