अर्थ-जगतदृष्टिकोणपहला पन्नाबीच-बहसराजनीतिक- गलियाराराष्ट्रीयराष्ट्रीय राजधानी दिल्ली

राष्ट्रीय त्रासदी के चार साल- पूंजीपति मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए पीएम मोदी ने सोची-समझी रणनीति के तहत की थी नोटबंदी- राहुल गांधी

नोटबंदी पीएम मोदी की सोची-समझी चाल थी जिससे कि आम जनता का पैसा उनके पूंजीपति मित्रों की जेब में पहुंच जाए

चौथा अक्षर संवाददाता
नई दिल्ली

नोटबंदी की बरसी पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक वीडियो संदेश के जरिये पीएम मोदी पर तीखा हमला किया है। उन्होंने कहा है कि नोटबंदी पीएम मोदी की सोची-समझी चाल थी जिससे कि आम जनता का पैसा उनके पूंजीपति मित्रों की जेब में पहुंच जाए। और पीएम मोदी ने यह काम उनके लाखों करोड़ रुपये के कर्जे को माफ करके किया।

लेकिन उन्होंने शुरुआत कोविड और उसके जरिये सामने आई आर्थिक तबाही से की। उन्होंने कहा कि “आज हिंदुस्तान के सामने एक बहुत बड़ा सवाल है। कोविड का समय है, सवाल ये है कि बांग्लादेश की इकॉनमी हिंदुस्तान की इकॉनमी से आगे कैसे निकल गई? समय होता था कि हिंदुस्तान दुनिया की सबसे हाई परफॉर्मिंग इकॉनमी होता था। सरकार कहती है, कारण कोविड है। मगर अगर कारण कोविड है, कोविड तो बांग्लादेश में भी है, कोविड तो बाकी दुनिया में भी है, तो फिर अगर कारण कोविड है तो हिंदुस्तान पीछे कैसे रह गया? भाइयों और बहनों, कारण कोविड नहीं है। कारण नोटबंदी है, कारण जीएसटी है”।

उन्होंने कहा कि 4 साल पहले पीएम नरेन्द्र मोदी ने हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था पर आक्रमण शुरू किया, आपके पैर पर कुल्हाड़ी मारी। किसानों, मजदूरों, छोटे दुकानदारों को जबरदस्त चोट मारी। मनमोहन सिंह ने कहा कि अर्थव्यवस्था को दो प्रतिशत का नुकसान होने वाला है और वही हमें देखने को मिला। प्रधानमंत्री ने कहा कालेधन के खिलाफ लड़ाई है। मगर कालेधन के खिलाफ नहीं थी, ये झूठ था।

उन्होंने कहा कि आक्रमण आप पर हो रहा था। आपके पैसे को आपसे छीन कर नरेन्द्र मोदी अपने चुने हुए दो-तीन उद्योगपति मित्रों को देना चाहते थे। आप लाइन में खड़े हुए, उस लाइन में नरेन्द्र मोदी के बड़े-बड़े उद्योगपति मित्र नहीं थे। आपने अपना पैसा बैंक में डाला और बैंक से नरेन्द्र मोदी ने आपका पैसा अपने मित्रों को दे दिया, उनका कर्जा माफ किया। 3 लाख 50 हजार करोड़ रुपए उनका कर्जा माफ किया।

राहुल गांधी ने आगे कहा कि उसके बाद नरेन्द्र मोदी ने गलत जीएसटी लागू की। रास्ता साफ किया, छोटे दुकानदारों को, मिडिल साइज बिजनेस वालों को, स्माल बिजनेस वालों को खत्म कर दिया। रास्ता किसके लिए साफ किया? फिर से अपने चुने हुए 3-4 उद्योगपति मित्रों के लिए और अब ये तीन नए कानून नरेन्द्र मोदी लाए हैं। किसानों को खत्म करने के कानून हैं। किसानों के खेत को उनके हाथों से छीनने के कानून हैं।

उन्होंने कहा कि हम सबको मिलकर लड़ना पड़ेगा। पीएम मोदी ने हिंदुस्तान की जो प्राइड हुआ करती थी, हिंदुस्तान की जो शान होती थी, हमारी अर्थव्यवस्था, उसको नष्ट कर दिया है। एक साथ मिलकर हमें हिंदुस्तान को फिर से बनाना पड़ेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Close