दिल्ली विश्वविद्दालय

दिल्ली सरकार के 28 कालेजों की गवर्निंग बाडी को तीन महीने का एक्सटेंशन

डीयू ने दिल्ली सरकार से गवर्निंग बाडी के सदस्यों के नामों के संदर्भ में भेजा पत्र, डीटीए ने वीसी , डीन आफ कालेजिज व रजिस्ट्रार को दी बधाई,

चौथा अक्षर संवाददाता
नई दिल्ली
आम आदमी पार्टी के शिक्षक संगठन दिल्ली टीचर्स एसोसिएशन ( डीटीए ) ने दिल्ली सरकार के वित्त पोषित 28 कालेजों की गवर्निंग बाडी को तीन महीने का फिर से एक्सटेंशन दिए जाने पर वाइस चांसलर प्रोफेसर पी.सी. जोशी , डीन आफ कालेजिज डा. बलराम पाणी व रजिस्ट्रार डा. विकास गुप्ता का धन्यवाद किया है और बधाई दी है । दिल्ली सरकार के वित्त पोषित 28 कालेजों की गवर्निंग बाडी के एक्सटेंशन दिए जाने संबंधी डीटीए का एक प्रतिनिधि मंडल मिला था और एक्सटेंशन देने की मांग की थीं । दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने डीटीए की मांग को स्वीकार करते हुए सोमवार 7 जून को अधिसूचना जारी कर दिल्ली सरकार के 28 कालेजों की गवर्निंग बाडी को एक्सटेंशन दे दिया गया।

डीटीए प्रभारी डा. हंसराज ’सुमन’ ने सरकार के वित्त पोषित 28 कालेजों की गवर्निंग बाडी को एक्सटेंशन दिए जाने पर खुशी जाहिर की है और कहा है कि इन कालेजों में शिक्षकों की पदोन्नति की प्रक्रिया चल रही है जैसे ही पदोन्नति पूर्ण होगी उसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन शैक्षिक व गैर शैक्षिक कर्मचारियों की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू हो सकती है।

CamScanner 06-07-2021 16.46.31

डीटीए प्रभारी डा. हंसराज ’सुमन’ ने बताया है कि दिल्ली सरकार के वित्त पोषित 28 कालेजों की गवर्निंग बाडी के एक्सटेंशन देने संबंधी अधिसूचना सोमवार 7 जून को दिल्ली विश्वविद्यालय के असिस्टेंट रजिस्ट्रार द्वारा जारी कर दी गई। उन्होंने दिल्ली सरकार के उच्च शिक्षा विभाग के निदेशक को पत्र लिखकर कहा है कि 15 जनवरी 2021 के कार्यालय पत्र फिर 29 जनवरी 2021 के पत्र के संदर्भ में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए तीन महीने का एक्सटेंशन दिया जाता है । दिल्ली सरकार के उपमुख्यमंत्री ने दिल्ली प्रशासन द्वारा दिल्ली विश्वविद्यालय के 28 कालेजों में नामित गवर्निंग बाडी के सदस्यों को तीन महीने के एक्सटेंशन की मांग की थी। उन्होंने बताया है कि पिछले दिनों उपमुख्यमंत्री के साथ विश्वविद्यालय अधिकारियों के साथ रचनात्मक संवाद के कारण यह संभव हो पाया है ।धीरे-धीरे 28 कालेजों में स्थिति सामान्य होती जा रही है ।दिल्ली सरकार द्वारा वित्त पोषित 28 कालेजों को अपनी भविष्य की योजना बनाने और उच्च शिक्षा के गुणवत्ता के संवर्धन के लिए उचित वातावरण मिलेगा ।

डा. सुमन ने बताया है कि सरकार के उस पत्र के संदर्भ में सक्षम अधिकारी के निर्देशों के आधार पर उपमुख्यमंत्री की मांग कालेजों को तीन महीने के एक्सटेंशन के संदर्भ में मान ली गई हैं जो कि 13 जून 2021 से है जिसका कार्यकाल 13 सितंबर 2021 तक होगा । दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने दिल्ली सरकार यह भी अधिसूचित किया है कि इसके उपरांत 50 प्रतिशत नामित सदस्य विश्वविद्यालय पैनल द्वारा दिल्ली सरकार के वित्त पोषित 28 कालेजों के लिए गवर्निंग बाडी के सदस्यों की सूची मांगी गई है । डीटीए ने दिल्ली सरकार से मांग की है कि सरकार के वित्त पोषित 28 कालेजों में वरिष्ठ शिक्षाविद ,पत्रकार ,डाक्टर ,संस्कृतकर्मी के अलावा अकादमिक जीवन में योगदान देने वालों का ही नाम भेजे ताकि उन कालेजों को स्तरीय प्रशासनिक नेतृत्व मिल सके इनका कार्यकाल एक वर्ष के लिए होगा।

डा. सुमन ने बताया है कि अगली बार के लिए 50 प्रतिशत सदस्यों के नाम तीन महीने का टर्म पूरा करने से पहले 50 प्रतिशत विश्वविद्यालय पैनल से नामित सदस्यों की सूची भेजी जाए। उन्होंने यह भी बताया है कि विश्वविद्यालय अध्यादेश के अनुसार कालेजों की गवर्निंग बाडी को तीन-तीन महीने का एक्सटेंशन दिए जाने का प्रावधान है । सरकार को भी चाहिए कि वह अपने नामित सदस्यों के नाम समय से पूर्व विश्वविद्यालय प्रशासन को भेज दे ताकि समय पर गवर्निंग बाडी बनाने की प्रक्रिया पूरी हो सकें।

कैसे बनती है गवर्निंग बाडी –
डा. सुमन ने बताया है कि 15 सदस्यीय गवर्निंग बाडी में 5 सदस्य दिल्ली सरकार ,5 दिल्ली विश्वविद्यालय ,2 प्रोफेसर विश्वविद्यालय प्रतिनिधि के अलावा कालेज के 1 सीनियर टीचर 1 जूनियर टीचर व कालेज प्रिंसिपल ।इस तरह इसमें 15 सदस्य होते हैं ।जहाँ दिल्ली सरकार के सांध्य कालेज है उसमें सरकार के 5 सदस्यों के अलावा सांध्य कालेज के दो टीचर और प्रिंसिपल मिलाकर 18 सदस्य होंगे ।

Related Articles

Close